ALL लॉकडाउन से सीख कविता लेख गीत/गजल समाचार कहानी/लघुकथा समीक्षा/पुस्तक चर्चा दोहा/छंद/हायकु व्यंग्य विडियो
युवा पीढ़ी को कर्मशील बनाने के लिए विशेष प्रयास जरूरी-संभागायुक्त अजीत कुमार 
November 5, 2019 • शब्द प्रवाह • समाचार

दो दिवसीय विश्वविद्यालयीन युवा उत्सव का शुभारंभ हुआ

उज्जैन। युवा पीढ़ी को कर्मशील बनाने को लेकर व्यापक जागरूकता की जरूरत है। भारत की वर्तमान जनसंख्या की सांख्यिकी से जाहिर होता है कि भारत में युवाओं की संख्या अन्य देशों की तुलना में अधिक है। वह कार्यशील हो, इसके लिए जरूरी है कि उसे अच्छी शिक्षा और अच्छा स्वास्थ्य मिले। रोजगारपरक शिक्षा को भी प्रोत्साहित करने की जरूरत है। सीखने के कई तरीके होते हैं, उन्हें नए दौर के अनुरूप बदलने की आवश्यकता है। शिक्षण के रूढ़ तरीकों को बदलना होगा। तकनीकी का सहारा लेकर हम शिक्षा को गुणवत्तापूर्ण बना सकते हैं। उच्च गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के माध्यम से हम स्पर्धा में टिक सकते हैं। युवा उत्सव जैसे आयोजनों से युवाओं की रचनात्मक ऊर्जा को प्रोत्साहन मिलता है। 
 
ये उद्गार उज्जैन के संभागायुक्त श्री अजीत कुमार ने विक्रम विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित विश्वविद्यालयीन युवा उत्सव के शुभारंभ अवसर पर स्वर्ण जयंती सभागार में व्यक्त किए।

विक्रम विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो बालकृष्ण शर्मा ने अध्यक्षीय उद्बोधन में कहा कि युवा अपनी छुपी हुई प्रतिभा को बेहतर तरीके से प्रस्तुत करें। स्वयं को सिद्ध करने के लिए स्पर्धा जरूरी होती है। युवा जीवन को रचनात्मक बनाएँ। अपने जीवन में ऊँचे लक्ष्य बनाएँ, सफलता जरूर मिलेगी।

विशिष्ट अतिथि कार्यपरिषद सदस्य द्वय श्रीमती शेवन्ती भगत और श्रीमती उषा जाटवा ने भी अपने उद्गार व्यक्त किए। 
विश्वविद्यालय के युवा उत्सव के शुभारंभ अवसर पर सम्राट विक्रमादित्य के मूर्तिशिल्प पर अतिथियों द्वारा पुष्पांजलि अर्पित की गई।

अतिथि स्वागत कुलसचिव डॉ डी के बग्गा, युवा उत्सव आयोजन समिति की अध्यक्ष प्रो शुभा जैन, विद्यार्थी कल्याण संकायाध्यक्ष डॉ आर के अहिरवार, कुलानुशासक प्रो शैलेंद्रकुमार शर्मा, पूर्व डीएसडब्ल्यू डॉ राकेश ढंड सहित विभिन्न जिलों के दल प्रबन्धकों और प्रतिभागियों ने किया। 

उद्घाटन समारोह में स्वागत भाषण प्रो शुभा जैन ने दिया। कार्यक्रम की रूपरेखा विद्यार्थी कल्याण संकायाध्यक्ष डॉ आर के अहिरवार ने प्रस्तुत की। इस उत्सव में विक्रम परिक्षेत्र के साढ़े तीन सौ से अधिक प्रतिभागी और कलाकार भाग लेने के लिए आए हैं। उद्घाटन समारोह के पश्चात् सांस्कृतिक, साहित्यिक और रूपांकन वर्ग की विधाओं में विद्यार्थियों ने अपने कौशल और प्रतिभा का परिचय दिया। 

संचालन डॉ प्रीति पाण्डे ने किया। आभार कुलसचिव डॉ डी के बग्गा ने माना।

युवा उत्सव का समापन एवं पुरस्कार वितरण 6 नवम्बर को होगा

विक्रम विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित विश्वविद्यालयीन युवा उत्सव का समापन समारोह 6 नवम्बर को स्वर्ण जयंती सभागार में दोपहर 3-30 संपन्न होगा। मुख्य अतिथि उज्जैन रेंज के आईजी श्री राकेश कुमार गुप्ता  होंगे। अध्यक्षता विक्रम विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो बालकृष्ण शर्मा करेंगे। विशेष अतिथि अतिरिक्त संचालक डॉ आर सी जाटवा एवं कुलसचिव डॉ डी के बग्गा रहेंगे। 6 नवम्बर को प्रातः से विभिन्न विधाओं में युवा अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे।

 

शब्द प्रवाह में प्रकाशित आलेख/रचना/समाचार पर आपकी महत्वपूर्ण प्रतिक्रिया का स्वागत है-

अपने विचार भेजने के लिए मेल करे- shabdpravah.ujjain@gmail.com

या whatsapp करे 09406649733