ALL लॉकडाउन से सीख कविता लेख गीत/गजल समाचार कहानी/लघुकथा समीक्षा/पुस्तक चर्चा दोहा/छंद/हायकु व्यंग्य विडियो
तेरी यादें
June 20, 2020 • भावना गौड़ • कविता
*भावना गौड़
नहीं याद करनी मुझे वो तेरी यादें
जिनको याद करने पर मेरी अँखियों में अश्रुधारा आएं
वो बीती यादें मेरे हृदय में पीड़ा देती है
 
आज भी स्मृति के पल मेरी अँखियों में देखते है
पापा की स्मृति की वो बीती यादें है
जिनको याद करके आँखे भीग जाती है
 
वो तेरी यादें वो पल बहुत अहम है
उन स्मृति में बचपन के सुनहरे पल जिये है
खट्टी मीठी यादों के प्रेम भरी यादें है
 
मन उदास हो जाता है उन तेरी यादों में
मुझे आज भी स्मृति है यादों के झरोखें है
कितने खुशी और हँसी के साथ वो पल जिये है
 
बचपन जुड़ा हुआ है मेरा उन तेरी यादों में
पल भर भी पल नहीं पाती उन दिनों को
आज वो बीती यादों से मन भावुक हो गया
 
निःशब्द हूँ मैं अब वो तेरी यादों को बताने में
अंत में यही कहूंगी कि वो बीती यादें मेरी ज़िंदगी है!!
*ग्रेटर नोएडा(उत्तर प्रदेश)
 

अपने विचार/रचना आप भी हमें मेल कर सकते है- shabdpravah.ujjain@gmail.com पर।

साहित्य, कला, संस्कृति और समाज से जुड़ी लेख/रचनाएँ/समाचार अब नये वेब पोर्टल  शाश्वत सृजन पर देखेhttp://shashwatsrijan.com

यूटूयुब चैनल देखें और सब्सक्राइब करे- https://www.youtube.com/channel/UCpRyX9VM7WEY39QytlBjZiw