ALL लॉकडाउन से सीख कविता लेख गीत/गजल समाचार कहानी/लघुकथा समीक्षा/पुस्तक चर्चा दोहा/छंद/हायकु व्यंग्य विडियो
सहजता में आनन्द का अनुभव
June 6, 2020 • सीमा जोशी • लॉकडाउन से सीख

हमारे बुजुर्गों का अनुभव आज हमारा अनुभव बन रहा है। कहते हैं "घर बिना दर नी "। भागादौड़ी और चकाचौंध वाली दोनों ज़िन्दगियाँ आज घरों में बन्द है। घर और परिवार के क्या मायने होते हैं ये पता तो होगा ही पर नज़दीकियां क्या होती है शायद इस दौर की ही देन होगी । सुबह काम पर गए दम्पति जब देर रात घर लौटते तब तक बच्चे और बुजुर्ग नींद के आगोश में होते है । सम्पर्क और साथ के लिए इन्तजार होता तो बस एक छुट्टी का। इन दो माह में इन रिश्तों में कितनी उर्जा आयी ये तो बयां करना सम्भव नही है।ये तो मात्र एक अवसर था। समय निकलते ही सबको फिर अपने अपने काम सम्भालना होंगे । क्योकि कर्म पूजा तो है ही ज़रूरत भी है । अनुभव की दृष्टि से हमने दो माह में जो जिंदगी जी है वह तारीफे काबिल है। बाहर ना घूमना (कम से कम) बाहर का खाना (अवाॅईड करना) मित्रता का प्रेम दूर से स्वीकार करना, हाथ जोड़ कर अपनी संस्कृति को बढ़ावा देना ये सब बातें हमें अपने जीवन में सदा के लिए उतारनी होगी । अभी तो यह ट्रायल थी । जब कोई तीसरा ( कोरोना ) हमें समझाता है तो फिर वह हमारे सामने चुनौती हो जाती है और फिर वह चुनौती हमारे स्वाभिमान पर बन आती है । आज जंहा मितव्ययिता और अपव्यय के मायने समझ आए वंही अपना काम स्वयं करने का गांधी जी का सिद्धांत भी अछूता नहीं रहा । दिखावे की लक्जरी चीजें फिजूल नज़र आने लगी । वाहनों का कम से कम उपयोग करनें से पर्यावरण में भी शुद्धता आ सकती है जो हमें अभी हवा और पानी में स्पष्ट दिखाई दे रही है । हम चाहें तो अपनी जरूरतों और महत्वाकांक्षाओं पर लगाम लगा कर सहज और सामान्य जीवन जी सकते हैं । ये इस दौर का सबसे बड़ा अनुभव उभर कर सामने आया है । कामकाज की बढ़ती जिम्मेदारियों के साथ ही हमने अपनी रचनात्मक ऊर्जा को भी बनाए रखा । फिज़ूल के सैर सपाटे को कम कर सृजनशीलता के नए आयाम स्थापित किए जा सकते हैं। ध्यान योग प्राणायाम और चिंतन का सकारात्मक सोंच इस समयावधि को पाटने में बहुत सहायक रहा ।
*सीमा जोशी,उज्जैन (म प्र)

 

इस विशेष कॉलम पर और विचार पढ़ने के लिए देखे- लॉकडाउन से सीख 

अपने विचार/रचना आप भी हमें मेल कर सकते है- shabdpravah.ujjain@gmail.com पर।

साहित्य, कला, संस्कृति और समाज से जुड़ी लेख/रचनाएँ/समाचार अब नये वेब पोर्टल  शाश्वत सृजन पर देखेhttp://shashwatsrijan.com

यूटूयुब चैनल देखें और सब्सक्राइब करे- https://www.youtube.com/channel/UCpRyX9VM7WEY39QytlBjZiw