ALL लॉकडाउन से सीख कविता लेख गीत/गजल समाचार कहानी/लघुकथा समीक्षा/पुस्तक चर्चा दोहा/छंद/हायकु व्यंग्य विडियो
ऑनलाइन काव्य गोष्ठी संपन्न
April 19, 2020 • शब्द प्रवाह समाचार • समाचार



"मेरे फार्मा के साथियों को मेरा नमन" पंक्तियों से काव्य गोष्ठी का आवाज करने वाले अलक्षेंद्र व्यास ने कोरोना महामारी के बावजूद दवा कंपनियों में काम करने वाले फार्मा के अपने साथियों को अपनी काव्य रचना समर्पित की और उन्हें वतन का जांबाज सिपाही बताया।  इस काव्य गोष्ठी का आयोजन वैश्विक कोरोना महामारी के कारण 3 मई तक बढ़ाए गए लॉक डाउन  के चलते विभिन्न साहित्यकारों के माध्यम से हल्लागुल्ला साहित्य मंच रतलाम ने किया । कार्यक्रम का शुभारंभ श्रीमती पुनीता भारद्वाज ने सरस्वती वंदना के माध्यम से किया।  रोम, इटली थाईलैंड जैसे देशों काव्य पाठ कर चुकी कवियत्री श्रीमती माया मानवेंद्र बधेका ने कोरोना महामारी से लड़ते डॉक्टर्स और उन पर पथराव करने वाले लोगों पर 'इंसानियत'  शीर्षक से कविता प्रस्तुत कर श्रोताओं को भाव विहृल कर दिया तो वही संजय परसाई सरल द्वारा 'प्रतीक्षा' नामक शीर्षक से बेटियों पर कविता पाठ किया गया तो मालवी कवि राजेश बाबू भंडारी एवं मालवी के लिए समर्पित हेमलता शर्मा 'भोली बैन' ने मालवी तड़का लगाते हुए हास्य रस की कविताएं प्रस्तुत कर समा बांध दिया ।  कार्यक्रम का संचालन अपनी चित परिचित शैली में हेमलता शर्मा 'भोली बैन' ने किया ।  आभार हल्ला गुल्ला साहित्य मंच के संस्थापक संजय जोशी 'सजग' ने माना । लाइक और कमेंट का आलम यह रहा कि कार्यक्रम के अंत में ही अगला कार्यक्रम शीघ्र करवाने की घोषणा भी की गई।

साहित्य, कला, संस्कृति और समाज से जुड़ी लेख/ रचनाएँ/ समाचार अब नये वेब पोर्टल  शाश्वत सृजन पर देखे-  http://shashwatsrijan.com