ALL कविता लेख गीत/गजल समाचार कहानी/लघुकथा समीक्षा/पुस्तक चर्चा दोहा/छंद/हायकु व्यंग्य विडियो
मौन सांझ
May 28, 2020 • व्यग्र पाण्डे • कविता

*व्यग्र पाण्डे

सुबह मुखर

मौन सांझ

तपती दोपहरी 

रात बांझ 

      -------

समाधिस्थ पेड़ 

वीरान छांव 

निहारें पखेरू 

ना कांव-कांव

        -------

सर्पिली हवा 

सूरज क्रुद्ध 

दोनों हुए

सबके विरुद्ध 

        -------

व्याकुल सभी 

ग्रीष्म का असर

पंखे - कूलर

सबकुछ बेअसर

          -------

चोटी से एडी

पसीने की धार

तन के कपड़े 

करें तीखी मार

          -------

कवि की कलम

उकेरे चित्र 

गर्मी के रंग 

बड़े विचित्र 

    ----------

*गंगापुर सिटी, सवाई माधोपुर (राज.)

 

साहित्य, कला, संस्कृति और समाज से जुड़ी लेख/रचनाएँ/समाचार अब नये वेब पोर्टल  शाश्वत सृजन पर देखेhttp://shashwatsrijan.comयूटूयुब चैनल देखें और सब्सक्राइब करे- https://www.youtube.com/channel/UCpRyX9VM7WEY39QytlBjZiw