ALL कविता लेख गीत/गजल समाचार कहानी/लघुकथा समीक्षा/पुस्तक चर्चा दोहा/छंद/हायकु व्यंग्य विडियो
कोरोना वायरस वापस जाओ - वापस जाओ 
March 29, 2020 • सुनील कुमार माथुर  • कविता

*सुनील कुमार माथुर 
ऐ कोरोना वायरस  ! तुझे किसने बुलाया है  ?
यहां  से तुम चलें जाओ वरना हम तुम्हें भगा देंगे 
भारत कश्मीर से कन्या कुमारी तक एक हैं 
यहां विभिन्नता में एकता है 
यहां देवी - देवताओं को पूजा जाता है इसीलिए 
सभी शक्तियां एकजुट होकर
कर देगी तुम्हारा खात्मा 
अब भी समय हैं  तुम यहां से चलें जाओ वरना 
भारतवासी तुम्हारा खात्मा कर देंगे 
जिस देश में चामुंडा माता ने
चालीस बम जोधपुर में गिरने पर
भारत मां की रक्षा की
जहां शीतला माता बच्चों को 
ठण्डा भोजन खाने पर 
चेचक की बीमारी से बचाती है 
उस देश में कोरोना तेरी क्या मजाल है जो तू
यहां अपना तांडव मचा सकेगा
जहां देवी - देवताओं को पूजा जाता है 
वहां तेरी क्या मजाल है जो तू 
अपना प्रकोप हम को दिखा पायेगा 
हे कोरोना वायरस अब भी समय है 
तू यहां से चुपचाप चला जा
इसी में तेरी भलाई है वरना
देवी - देवताओं की फटकार खाकर
तुझे यहां से जाना होगा 
आगे तेरी मर्ज़ी है 
फिर मत कहना कि मुझे चेताया नहीं 
 
*सुनील कुमार माथुर ,जोधपुर राजस्थान 
 

साहित्य, कला, संस्कृति और समाज से जुड़ी लेख/ रचनाएँ/ समाचार अब नये वेब पोर्टल  शाश्वत सृजन पर देखे-  http://shashwatsrijan.com