ALL कविता लेख गीत/गजल समाचार कहानी/लघुकथा समीक्षा/पुस्तक चर्चा दोहा/छंद/हायकु व्यंग्य विडियो
कोरोना कथा
April 17, 2020 • शाश्वत जैन • कहानी/लघुकथा

*शाश्वत जैन

चीन नाम के देश में एक वायरस बनाया गया और वह वायरस को बनाया था चिंग चोंग नाम के एक व्यक्ति ने। उसने इस वायरस को नाम दिया कोविड-19 । एक बार वह जब रात को सो रहा था तब उसके घर में चोर आ गए। वे बहुत सारा सामान चुरा कर अपने घर चले गए। जब वह वहां चोरी किया हुआ सामान देख रहे थे, तो उनमें से एक चोर की नजर वायरस भरे बोतल पर पड़ी। उसे लगा कि वह पानी है और वे सब मिल बैठकर पी गए। अगली रात उन्होंने एक अमीर घर में चोरी करी। चोरी करते समय एक चोर ने नल को हाथ लगाया और सुबह उठकर सभी ने उस नल को हाथ लगाया। तो सभी उससे संक्रमित हो गए। वे व्यवहारिकता से बहुत दिनों तक वायरस से अनजान होकर लोगों से मिले और हाथ भी मिलाए। थोड़े दिन बाद उन सब की मृत्यु हो गई। उस परिवार की, चोरों की और उस परिवार वाले जिन लोगों से मिले उनकी भी। तो यह देखकर वहां की सरकार हैरान हो गई कि एक साथ इतनी मौत कैसे हो सकती है।

उस परिवार में एक बच्चा भी था। वह उसके दोस्त के घर भी गया। तो उसने मिलते वक्त उससे हाथ मिलाया तो वह भी संक्रमित हो गया। फिर वह एक शादी में गया वहां  उसके कई दोस्त आए थे। उसने उनके साथ एक ही थाली में खाना खाया इस वजह से दूसरे बच्चे भी संक्रमित हो गए। धीरे-धीरे ऐसा ही चलता रहा और इस प्रकार से कोविड-19 पूरी चीन में फैल गया।

वहां की सरकार ने सबसे अच्छे डॉक्टर से बात करी। फिर डॉक्टर ने उस घटना पर शोध करा तो वहां से पता चला कि यह वायरस बहुत ही खतरनाक है। और यह पूरे विश्व में तहलका मचा सकता है। यह बात उसने सरकार को बताई तो उसे नेगेटिव सोच समझ कर उसे जेल में डाल दिया गया। इसी वायरस से उस डॉक्टर की भी मौत हो गई। सरकार को इस डॉक्टर की बात सच लगने लगने लगी। बस एक लापरवाही की वजह से यह वायरस दुनिया भर में फैल गया। अब इस वायरस को कोरोना और महामारी के नाम से भी जाना जाता है।

*घर में रहिए स्वस्थ रहिए*

शाश्वत जैन, उज्जैन

साहित्य, कला, संस्कृति और समाज से जुड़ी लेख/ रचनाएँ/ समाचार अब नये वेब पोर्टल  शाश्वत सृजन पर देखे-  http://shashwatsrijan.com