ALL कविता लेख गीत/गजल समाचार कहानी/लघुकथा समीक्षा/पुस्तक चर्चा दोहा/छंद/हायकु व्यंग्य विडियो
खुदा कहा रहता है
July 12, 2020 • शिवकुमार दुबे • कविता

*शिवकुमार दुबे

न किसी गिरजाघर
न किसी मस्जिद
नकिसी मन्दिर
न गुरुद्वारा
में खुदा रहता है
इंसानो की फितरत देखो
खुदा को कितना बेहाल 
बना दिया है
कोई कहता वो 
उनके दिल मे रहता है
कोई कहता वो ईमान 
वालो के पास रहता है
कोई कहता वो बुत
में नही रहता
कोई कहता
वो पत्थरो में रहता है
तुम अपने ईमान से
दिल पर हाथ रखकर
बोले खुदा कहा रहता है
वो बेईमान खुदगर्ज
इंसानो को छोड़
सच्चे इंसानो के पास
रहता है।
 
*इंदौर
 

अपने विचार/रचना आप भी हमें मेल कर सकते है- shabdpravah.ujjain@gmail.com पर।

साहित्य, कला, संस्कृति और समाज से जुड़ी लेख/रचनाएँ/समाचार अब नये वेब पोर्टल  शाश्वत सृजन पर देखेhttp://shashwatsrijan.com

यूटूयुब चैनल देखें और सब्सक्राइब करे- https://www.youtube.com/channel/UCpRyX9VM7WEY39QytlBjZiw