ALL कविता लेख गीत/गजल समाचार कहानी/लघुकथा समीक्षा/पुस्तक चर्चा दोहा/छंद/हायकु व्यंग्य विडियो
गाँधी जयंती पर संवाद, संकल्प, काव्यगोष्ठी एवं  सम्मान समारोह
October 3, 2020 • ✍️शब्द प्रवाह समाचार • समाचार

उज्जैन। "शुद्ध, सात्विक हो परिवेश, नशा मुक्त हो भारत देश" श्लोगन के साथ 02 अक्टूबर महात्मा गांधी की 151वी जयंती को "मद्यपान निषेध सप्ताह" (02 अक्टूबर से 08 अक्टूबर तक) के  रूप में मनाये जाने के शुभारंभ दिवस पर मध्यप्रदेश जन अभियान परिषद जिला~ उज्जैन के मार्गदर्शन में संवाद शोध संस्थान, ग्राम- गोंदिया, जिला उज्जैन  द्वारा "नशा मुक्ति दिवस" पर जन जागरुकता पर आधारित कार्यक्रम को संवाद, संकल्प, काव्यगोष्ठी एवं सम्मान समारोह-2020 के रूप में मनाया गया | 
इस अवसर पर कार्यक्रम की अध्यक्षता परमपूज्य महंत श्री श्याम दास जी महाराज (श्री राम जानकी मंदिर, श्री धाम आश्रम, नील गंगा मार्ग, उज्जैन) ने की | मुख्य अतिथि ठाकुर श्री वीरेंद्र सिंह जी (ब्लाक समन्वयक ज. अ. प., उज्जैन) एवं श्रीमती हेमलता ओझा जी (वराहमिहिर उ मा विद्यालय, कायथा ) थे ।

कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती एवं महात्मा गांधी के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलन के साथ कवयित्री श्रीमती अनीता सोहनी की सरस्वती वंदना के साथ हुआ | कार्यक्रम संयोजक एवं संचालक डॉ राजेश रावल "सुशील" के अतिथि परिचय एवं अतिथियों के सम्मान के पश्चात सर्वप्रथम ग्राम गिरोता से पधारे सम्माननीय अतिथि श्री वासुदेव पांचाल जी को शिक्षा के क्षेत्र में उनके विशिष्ट योगदान के लिए तथा लोकभाषा मालवी के लिए वरिष्ठ मालवी कवि पंडित श्री नरेन्द्र शर्मा "नखेत्री" (ग्राम- कायथा), का शाल, श्रीफल एवं स्मृति चिन्ह प्रदान कर सारस्वत सम्मान किया गया |  राष्ट्र की भावी पीढ़ी में नशे की बढ़ती हुई प्रवृत्तियों के परिपेक्ष्य में जन जागरूकता के अंतर्गत चर्चा परिचर्चा एवं उद्बोधन के पश्चात आमंत्रित कवियों द्वारा विशेष रूप से नशामुक्ति विषय पर काव्य पाठ किया गया । सर्वश्री रमेश मनोहरा जावरा, निमाड़ी लोक भाषा के कवि अक्षय चौवरे, दौलत सिंह दरबार,  राजेश नायक दुबला, डॉ पी डी शर्मा,  गौरीशंकर उपाध्याय "उदय", माचकार अनिल पांचाल, खूबचंद कलमोदिया कनक, रामचंद्र जी पांचाल, अनिल पांचाल सेवक, नंदकिशोर पांचाल, हाकम पांचाल अनुज, सुरेंद्र सत्संगी,  शुभम शर्मा आदि ने अपने काव्य पाठ के माध्यम से स्वयं को व समाज को ही नहीं वरन् संपूर्ण राष्ट्र को नशे से मुक्त बनाने के सार्थक प्रयासों के संकल्प को दोहराया |  कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान से किया गया | अंत में आभार संस्था सदस्य ओजस्वी कवि श्री हाकम पाँचाल "अनुज" ने माना |

अपने विचार/रचना आप भी हमें मेल कर सकते है- shabdpravah.ujjain@gmail.com पर।

साहित्य, कला, संस्कृति और समाज से जुड़ी लेख/रचनाएँ/समाचार अब हमारे वेब पोर्टल  शाश्वत सृजन पर देखेhttp://shashwatsrijan.com

यूटूयुब चैनल देखें और सब्सक्राइब करे- https://www.youtube.com/channel/UCpRyX9VM7WEY39QytlBjZiw