ALL कविता लेख गीत/गजल समाचार कहानी/लघुकथा समीक्षा/पुस्तक चर्चा दोहा/छंद/हायकु व्यंग्य विडियो
डॉ. कुँवर दिनेश की हिन्दी कहानियों का संग्रह ‘जब तक ज़िंदा हैं’ प्रकाशित
July 2, 2020 • शब्द प्रवाह समाचार • समाचार


शिमला। हिमाचल प्रदेश के हिन्दी व अँग्रेज़ी के चर्चित लेखक, कवि, कथाकार एवं समीक्षक, डॉ. कुँवर दिनेश सिंह की हिन्दी कहानियों का संग्रह, “जब तक ज़िंदा हैं” प्रकाशित होकर आया है। इस संग्रह में कुल दस कहानियाँ हैं जो भारतीय समाज के विविध पहलुओं को उजागर करतीं हैं। इन कहानियों में छोटे नगर और ग्रामीण समाज की जीवन-शैली की झलक देखी जा सकती है। साथ ही विविध मानवीय संबंध और ईश्वरीय सहायता पर उनकी निर्भरता इन कहानियों का महत्त्वपूर्ण विषय। हिमाचल प्रदेश साहित्य अकादमी से पुरस्कृत लेखक, कुँवर दिनेश की हिन्दी और अँग्रेज़ी में कविता और आलोचना की कई पुस्तकें प्रकाशित और पुरस्कृत हो चुकी हैं। डॉ. कुँवर दिनेश वर्तमान में राजकीय महाविद्यालय, अर्की में अँग्रेज़ी के प्राध्यापक हैं। इन कहानियों में कथाकार कुँवर दिनेश ने भारतीय समाज के संस्कारों व जीवन मूल्यों को बेहद मार्मिक ढंग से उकेरा है। रिश्तों का मान, बुज़ुर्गों का सम्मान, परम्परा का अधिमान, एकल नारी की स्थिति, विधवा की परिस्थिति, बच्चों के मनोभाव, मानव के नियत स्वभाव एवं कृत्रिम हावभाव ― इन सबका लेखक ने गहरी संवेदना एवं अनुभूति तथा सजीवता के साथ चित्रण किया है। कथ्य की परिपक्वता एवं शिल्प की सुगढ़ता इन कहानियों को रुचिकर बनाती हैं। आम आदमी के जीवन के सूक्ष्मतर पहलुओं एवं बुनियादी समस्याओं पर केन्द्रित ये कहानियाँ अनूठी हैं और लीक से हटकर हैं। इन कहानियों में रमी हुई हिमाचली-पहाड़ी भाषा की आंचलिक सुगन्ध, इन्हें और अधिक आत्मीय बनाती है।’ 

 

अपने विचार/रचना आप भी हमें मेल कर सकते है- shabdpravah.ujjain@gmail.com पर।

साहित्य, कला, संस्कृति और समाज से जुड़ी लेख/रचनाएँ/समाचार अब नये वेब पोर्टल  शाश्वत सृजन पर देखेhttp://shashwatsrijan.com

यूटूयुब चैनल देखें और सब्सक्राइब करे- https://www.youtube.com/channel/UCpRyX9VM7WEY39QytlBjZiw