ALL कविता लेख गीत/गजल समाचार कहानी/लघुकथा समीक्षा/पुस्तक चर्चा दोहा/छंद/हायकु व्यंग्य विडियो
दिन प्रति दिन बढ़ रही कोरोना बिमारी है
April 11, 2020 • आशु द्विवेदी • कविता

*आशु द्विवेदी

दिन प्रति दिन बढ़ रही कोरोना बिमारी है।

अभी तक बनी नहीं इसकी कोई दवाई है ।
 
अमेरिका हो या इटली हर जगह तबाही मचाई है।
बड़े बड़े देशों को ये घुटनों पर ले आई है।
 
हिन्दू मुस्लिम की पहचान नहीं इसको।
हर कीसी पर पड रही ये भारी है ।
 
इस पर काबू पाने की भारत ने करी खूब तैयारी है।
फ़िर जाने कुछ लोग क्यों कर रहे नादानी हैं।
 
भारत में कोरोना फैलाने की। 
कोशिश में लगे कुछ मुर्ख अज्ञानी हैं। 
 
सावधान रहने में ही सब की भलाई है
लाॅकडाउन का पालन करना सब के लिए जरूरी है।
 
क्योंकि अपने देश को कोरोना। 
मुक्त बनाना हम सब की जिम्मेदारी है।
 
*आशु द्विवेदी, दिल्ली
 

साहित्य, कला, संस्कृति और समाज से जुड़ी लेख/ रचनाएँ/ समाचार अब नये वेब पोर्टल  शाश्वत सृजन पर देखे-  http://shashwatsrijan.com