ALL कविता लेख गीत/गजल समाचार कहानी/लघुकथा समीक्षा/पुस्तक चर्चा दोहा/छंद/हायकु व्यंग्य विडियो
धुन्ध
June 17, 2020 • निहाल चन्द्र शिवहरे • कविता

*निहाल चन्द्र शिवहरे

रानी लक्ष्मी बाई के बलिदान दिवस 18 पर विशेष -

इस धुँधलके में भी,
तुम एक उम्मीद हो
समाज की नई तस्वीर
देश की तक़दीर हो
रानी लक्ष्मीबाई बन
कौशल अब दिखाओ
कड़क बिजली चलाने
मोतीबाई सामने आओ
झलकारी अब पुन:
नई उम्मीद जगाओ
भवानी शंकर पुकारे
मानवती, बख्शीन ज़ू
जूही , सुन्दर . मुन्दर
प्रल्यकारी इतिहास
दोहराने रणचण्डी बन
रणभेरी पुन: बजाओ
दहशत की धुँध में
ज़ख़्मी नारी सम्मान
बचाने एक बार फिर
नर पिशाचों को
सबक़ सिखाओ !
सबक सिखाओ !
*सीपरी बाज़ार,झॉंसी 

अपने विचार/रचना आप भी हमें मेल कर सकते है- shabdpravah.ujjain@gmail.com पर।

साहित्य, कला, संस्कृति और समाज से जुड़ी लेख/रचनाएँ/समाचार अब नये वेब पोर्टल  शाश्वत सृजन पर देखेhttp://shashwatsrijan.com

यूटूयुब चैनल देखें और सब्सक्राइब करे- https://www.youtube.com/channel/UCpRyX9VM7WEY39QytlBjZiw