ALL कविता लेख गीत/गजल समाचार कहानी/लघुकथा समीक्षा/पुस्तक चर्चा दोहा/छंद/हायकु व्यंग्य विडियो
भुला न देना
June 6, 2020 • डॉ. प्रतिमा विश्वकर्मा 'मौली' • कविता


*डॉ. प्रतिमा विश्वकर्मा 'मौली'
मन की डाली पर बैठी
यादो की मैना
कहती क्या सजन सुनो न
भुला न देना, भुला न देना

आखों में महकते हुए 
वादों के फूल
सहेज के रखे हैं चुन चुन
विखरा न देना ,बिखरा न देना

तन की शाख पर लिपटी
ख्वाबो की बेल
पिया मिलन को बैचेन
बिसरा  न देना ,बिसरा  न देना

प्राण उपवन में समाई
पूजन की लगन
तुम्हारे देवत्व में मलंग
ठुकरा न देना ठुकरा न देना |

*कोटा,आमानाका, रायपुर (छत्तीसगढ)

 

अपने विचार/रचना आप भी हमें मेल कर सकते है- shabdpravah.ujjain@gmail.com पर।

साहित्य, कला, संस्कृति और समाज से जुड़ी लेख/रचनाएँ/समाचार अब नये वेब पोर्टल  शाश्वत सृजन पर देखेhttp://shashwatsrijan.com

यूटूयुब चैनल देखें और सब्सक्राइब करे- https://www.youtube.com/channel/UCpRyX9VM7WEY39QytlBjZiw