ALL कविता लेख गीत/गजल समाचार कहानी/लघुकथा समीक्षा/पुस्तक चर्चा दोहा/छंद/हायकु व्यंग्य विडियो
अभावों में खुशहाल
June 14, 2020 • आशीष बल्लम • कविता
*आशीष बल्लम
कौन है मज़दूर ?
हमारी हर जरूरत की
चीजों को
बनाने वाला है मज़दूर ।
 
कौन है मज़दूर ?
हम जो उपज खाते 
उस उपज को पसीने से 
सींचने वाला है मज़दूर ।
 
कौन है मज़दूर ?
हमे मीठी नींद में सुलाकर
हमे चैन की नींद देके
चौकीदारी करनेवाला है मज़दूर ।
 
कौन है मज़दूर ?
हमे अपने गंतव्य तक
खुद जोखिम में रहकर
पहुंचाने वाला है मज़दूर ।
 
कौन है मज़दूर ?
नई-नई तकनीक बनाकर
हमारी राहें आसान 
बनाने वाला है मज़दूर ।
 
कौन है मज़दूर ?
बड़ी बड़ी इमारतें तानकर
मज़बूत नींव में पसीना
डालने वाला है मज़दूर ।
 
कौन है मज़दूर ?
हर पल मेहनत को तैयार
कोई तीज ना त्यौहार
मजबूर फिर भी
हमेशा खुश रहने वाला है मज़दूर
जी हां, "अभावों में खुशहाल"
रहने वाला है मज़दूर ।
छिंदवाड़ा (म.प्र)
 

अपने विचार/रचना आप भी हमें मेल कर सकते है- shabdpravah.ujjain@gmail.com पर।

साहित्य, कला, संस्कृति और समाज से जुड़ी लेख/रचनाएँ/समाचार अब नये वेब पोर्टल  शाश्वत सृजन पर देखेhttp://shashwatsrijan.com

यूटूयुब चैनल देखें और सब्सक्राइब करे- https://www.youtube.com/channel/UCpRyX9VM7WEY39QytlBjZiw